उल्टी आई तो बस की खिड़की से बाहर निकाला सिर, आ गया ट्रक की चपेट में

0
153

खंडवा । इंदौर-इच्छापुर राजमार्ग पर रोशिया फाटे के निकट बस और ट्रक की क्रासिंग के दौरान बस में सवार 11 वर्षीय बालिका का सिर ट्रक से टकराने पर मस्तिष्क बाहर आ गया और मौके पर ही उसकी मौत हो गई। मंगलवार सुबह करीब 10 बजे खंडवा से इंदौर जा रही प्रभात बस क्रमांक एमपी-10 8666 में अपनी मां के साथ सवार बालिका तमन्ना पुत्री हैदर निवासी बंगाली कालोनी खंडवा ने उल्टी करने के लिए जैसे ही बस की खिड़की से सिर बाहर निकाला तो सामने से आ रहे ट्रक क्रमांक पीबी- 02 सीसी 7974 की चपेट में आने से खोपड़ी के परखच्चे उड़ गए। खून फैलने और बस की खिड़की से लटकता सिर देख सभी के रोंगटे खड़े हो गए।शेष पढ़ें विज्ञापन के बाद….

Advertisement





देशगांव चौकी प्रभारी रमेश गवले ने बताया कि इंदौर से ट्रक खंडवा आ रहा था। वहीं बस खंडवा से इंदौर जा रही थी। रोशिया फाटे के निकट बेड़ा घाट पर यह हादसा हुआ। ट्रक व बस को देशगांव चौकी पुलिस ने कब्जे में लेकर दोनों वाहन के चालकों को हिरासत में ले लिया है। बालिका का शव पोस्ट मार्टम के लिए छैगांव माखन अस्पताल भिजवा दिया है।

फोरलेन की जरूरत

इंदौर-इच्छापुर राजमार्ग पर वाहनों का दबाव अत्यधिक होने तथा मार्ग टूलेन होने से यहां आए दिन ट्रैफिक जाम और हादसे होते रहते हैं। इसे देखते हुए इस मार्ग को फोरलेन करने की मांग लंबे समय से हो रही है। 205 किलोमीटर के इस मार्ग के चौड़ीकरण का प्रस्ताव मध्य प्रदेश सड़क विकास निगम द्वारा तैयार किया गया था, लेकिन बाद में इसे नेशनल हाईवे में परिवर्तित करने का निर्णय होने से मामला अधर में लटका हुआ है। यह मार्ग ड्यूटी मुक्त होने से इस पर भारी वाहनों का दबाव अत्यधिक रहता है, ऐसे में खंडवा से इंदौर पहुंचने में 4 से 5 घंटे बसों को लग रहे है। वहीं दुर्घटनाओं में लोगों की जान भी जा रही है। समाजसेवी प्रमोद जैन ने मांग की है कि जल्द से जल्द इंदौर इच्छापुर राजमार्ग को राष्ट्रीय राजमार्ग के रूप में तैयार किया जाए।