बगैर कपड़ों के निकलेगी साइकिल रैली, चेहरे पर सिर्फ मास्क पहनने की इजाजत

0
237

दुनिया में जरा हटके कुछ कर दिखाने वालों की कमी नहीं है। धरती के हर कोने में तमाम लोग अपने अजब-गजब आइडियाज को लेकर हमेशा चर्चा में रहते हैं। हांलाकि कई बार इसका मकसद खुद की क्रिएटिविटी या काबिलियत साबित करने के अलावा लोगों को जागरूक करना भी होता है।

ऐसी ही एक मुहिम है सालाना न्यूड रैली। जी हां सही पढ़ा आपने न्यूड साइकिल रैली इसका आयोजन अमेरिका और ब्रिटेन समेत कुछ देशों में कई सालों से हो रहा है।

फिडेल्फिया में न्यूड बाइक रैली

अमेरिका के फिडेल्फिया शहर में हर साल नेकेड साइकिल राइड का आयोजन किया जाता है लेकिन इस बार ये आयोजन भी कुछ अलग हट के खास होगा। ऐसा इसलिए क्योंकि रेस में शामिल होने वाले कंटेस्टिएंट शरीर पर किसी भी तरह का कपड़ा नहीं पहनेंगे लेकिन कोरोना से बचने और दूसरों को बचाने के लिए फेस मास्क लगाए मौजूद रहेंगे।

 28 अगस्त को होगी एनुअल फिली राइड

सालाना फिली नेकेड साइकिल राइड के आयोजकों का कहना है कि इस बार बहुचर्चित रेस का आयोजन 28 अगस्त 2021 को होगा। शहर में पहले से लागू कोरोना वायरस प्रतिबंधों के तहत पहली बार शरीर पर कुछ पहनने यानी मास्क लगाने की इजाजत दी गई है। आयोजकों ने ये भी कहा है कि अगर कोरोना के हालात काबू में रहे और मास्क पहनने संबंधी आदेश में ढील दी गई तो वो इस बाध्यता को खत्म भी कर सकते हैं।

फॉक्स न्यूज़ में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक रैली के आयोजकों में से एक वेस्ले नूनन-सेसा ने कहा कि अपने सालाना आयोजन की वजह से उनकी शहर में अगले महीने या फिर उसके बाद लागू रहने वाले कोरोना प्रोटोकॉल्स को लेकर नजर बनी रहेगी। सिटी में इस वजह से वैक्सीनेशन में भी तेजी लाई जा रही है ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगा दी जाए।

हजारों की तादाद में उमड़ते हैं लोग

दुनिया भर का ध्यान खीचने वाले इस आयोजन में न्यूड राइडर्स करीब 16 किलोमीटर तक बिना कपड़ों के बाइक चलाते हैं। सालना नेकेड बाइक राइड लिबर्टी बेल, इंडिपेंडेंस हॉल, म्यूजियम ऑफ आर्ट्स स्टेप्स के रास्ते से होकर गुजरती है। इसमें पुरुषों के अलावा बड़ी संख्या में महिलाएं भी हिस्सा लेती हैं। वहीं दर्शकों की तादाद तो हर साल बढ़ती ही जा रही है।

लोग जमकर खिंचते हैं तस्वीरें

इस आयोजन के दौरान लोग इन न्यूड राइडर्स की जमकर तस्वीरें लेते हैं। जुलूस की शक्ल में गुजरने वाले इन राइडर्स का लोग हौसला बढ़ाते हैं। रैली का मकसद स्वास्थय और पर्यावरण के प्रति जागरुकता फैलाना भी होता है। राइड से पहले कुछ प्रतिभागी एक-दूसरे के शरीर पर पेंटिंग करते हैं।

ब्रिटेन में भी होता है ऐसा आयोजन

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पर्यावरण को बचाने के लिए ऐसी ही न्यूड रैली हर साल ब्रिटेन में होती है। साल 2004 से ऐसी न्यूड साइकिल रैली का आयोजन होता है। ये रैली बकिंघम पैलेस और संसद से होकर गुजरती है। इसका मकसद पर्यावरण को बचाने के लिए जनदागरण होता है। महिला प्रतिभागियों की न्यूड बॉडी पर दुनिया को प्रदूषण से बचाने की गुहार लगाने वाले स्लोगन लिखे होते हैं।