ट्विटर ने भारत में नियुक्त किए अधिकारी, विनय प्रकाश बने शिकायत निवारण अधिकारी

0
155

नई दिल्ली । माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर ने भारत में विनय प्रकाश  को शिकायत निवारण अधिकारी नियुक्त किया है ।इसके साथ ही ट्विटर ने भारत में नियुक्त किए गए अधिकारी का स्थानीय पता भी दिया है।अगर कोई संपर्क करना चाहता है तो वह मुलाकात भी कर सकता है। ट्विटर द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार विनय प्रकाश की ई-मेल आईडी grievance-officer-in@twitter.com है। वहीं कर्नाटक स्थित बेंगलुरु में द स्टेट बिल्डिंग के चौथे मंजिल पर इनका दफ्तर होगा । ट्विटर ने कहा कि भारत में ‘चौथी मंजिल, द एस्टेट, 121 डिकेंसन रोड, बैंगलोर 560042’ पर ट्विटर से संपर्क किया जा सकता है. कंपनी की वेबसाइट पर यह सूचना डाली गई है।

बता दें कि हाल ही में सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव ने नये सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) नियमों को लेकर केंद्र सरकार के साथ ट्विटर के गतिरोध पर कहा था कि भारत में रहने और काम करने वालों को देश के नियमों का अनुपालन करना होगा।

कंप्लायंस रिपोर्ट भी प्रकाशित की

RGO नियुक्त करने के साथ ही कंपनी ने 26 मई, 2021 से 25 जून, 2021 के दौरान की कंप्लायंस रिपोर्ट भी प्रकाशित की है। 26 मई को लागू हुए आईटी नियमों के तहत यह एक और अहम नियम था। ट्विटर ने पहले धर्मेंद्र चतुर को अपना अंतरिम अधिकारी नियुक्त किया था. हालांकि चतुर ने पिछले महीने इस्तीफा दे दिया था। सोशल मीडिया के नए नियमों को लेकर ट्विटर का भारत सरकार के साथ टकराव चल रहा है।

8 जुलाई को दिल्ली हाईकोर्ट में एक सुनवाई के दौरान नये आईटी नियमों को लेकर केंद्र सरकार के साथ गतिरोध की स्थिति का सामना कर रहे ट्विटर ने अदालत को बताया था कि उसने एक अंतरिम मुख्य अनुपालन अधिकारी नियुक्त किया है, जो भारत के निवासी हैं।साथ ही, उसने कहा था कि वह (ट्विटर) नियमों के मुताबिक आठ हफ्तों में इस पद के लिए नियमित अधिकारी की नियुक्ति करने का प्रयास करेगा। इस पर, अदालत ने माइक्रोब्लॉगिंग साइट को नये नियमों के अनुपालन पर एक हलफनामा,अमेरिका में नोटरी द्वारा सत्यापित, दाखिल करने के लिए दो हफ्तों का वक्त दिया था ।

ट्विटर के भारत में करीब 1.75 करोड़ यूजर्स हैं।नए सोशल मीडिया नियमों को लेकर ट्विटर का भारत सरकार के साथ विवाद चल रहा है। ट्विटर ने भारत में मध्यवर्ती के रूप में अपना कानूनी कवच गंवा दिया है। अब वह प्रयोगकर्ताओं द्वारा किसी तरह की गैरकानूनी सामग्री डालने के लिए जिम्मेदार होगी ।