Toolkit Controversy: रमन सिंह के आवास पर पहुंची पुलिस, पूछताछ जारी

0
154

रायपुर । ‘टूलकिट विवाद’ बढ़ता जा रहा है। छत्तीसगढ़ में आज सिविल लाइन पुलिस स्टेशन के बाहर पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह के साथ कुछ भाजपा नेताओं ने विरोध-प्रदर्शन किया। इस दौरान ‘टूलकिट’ मामले में प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह और भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा के खिलाफ एफआइआर दर्ज हो गई है। मामले में आज दोनों को समन भी भेज दिया गया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, रमन सिंह को अपने घर ही उपस्थित रहने के निर्देश दिए गए हैं। बताया जा रहा है कि सिविल लाइन थाने के पास स्थित उनके निवास पर टीम पूछताछ करेगी। रायपुर पुलिस की टीम पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह के आवास पर पहुंच गई है।

इसके साथ ही नोटिस में कहा गया है कि वह (पूर्व मुख्यमंत्री) जानकारी दे कि उनके नाम का ट्विटर अकाउंट उनका है और इसके एक्सेस का ब्यौरा दें। पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह को इस नोटिस में कहा गया है कि कांग्रेस टूलकिट एक्सपोज्ड हैशटैग का प्रयोग करते हुए अन्य व्यक्तियों से की गई बातचीत की भी जानकारी दें।

गौरतलब है कि टूलकिट मामले के सामने आने के बाद से राज्य के सत्ताधारी कांग्रेस के छात्र संगठन एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष आकाश शर्मा ने पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह और भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा के खिलाफ यहां के सिविल लाइन थाने में मामला दर्ज कराया था। आरोप है कि दोनों नेताओं ने अपने अध‍िकारिक टि्वटर अकाउंट से कांग्रेस पार्टी के फर्जी लेटर हेड को शेयर कर प्रदेश में सांप्रदायिक हिंसा भड़काने का कार्य किया हैं। इसके बाद ही राज्य के मुख्य विपक्षी दल भाजपा के नेताओं ने राज्य सरकार के खिलाफ धरना दिया।