टिकैत का मोदी को जवाब-हमारे लोगों को छोड़ो तभी बनेगी बात

0
153

मन की बात में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 26 जनवरी को लाल किले पर तिरंगे के अपमान से देश बेहद दुखी हुआ है। जिसके बाद कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसान नेता नरेश टिकैत ने प्रतिक्रिया दी है। टिकैत ने कहा कि हम कभी किसी को तिरंगे का अपमान नहीं करने देंगे, हमेशा ऊंचा रखेंगे।

नरेश टिकैत ने कहा कि पीएम मोदी ने मन की बात में जो कहा हम उनका सम्मान करते हैं, उनकी गरिमा की रक्षा की जाएगी। उन्होंने आगे कहा कि 26 जनवरी को हुई हिंसा साजिश का परिणाम थी, इसकी बड़े पैमाने पर जांच की जानी चाहिए। सरकार या संसद को हम नहीं झुकाना चाहते मगर किसानों के स्वाभिमान की भी रक्षा करेंगे।

टिकैत ने कहा कि ‘सरकार को हमारे लोगों को रिहा करना चाहिए और बाचचीत के लिए एक मंच तैयार करना चाहिए। आशा है कि इसके लिए कोई बीच का रास्ता मिलेगा।’

बता दें कि रविवार को रेडियो कार्यक्रम मन की बात में देशवासियों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ‘दिल्ली में 26 जनवरी को तिरंगे का अपमान देख, देश, बहुत दुखी भी हुआ। ’26 जनवरी को किसानों के ट्रैक्टर आंदोलन के दौरान कुछ उपद्रवियों ने लाल किले पर उस स्थान पर निशान साहिब का झंडा फहरा दिया था, जहां प्रधानमंत्री हर साल स्वतंत्रता दिवस पर झंडा फहराते हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने आगे कहा कि ‘हमें आने वाले समय को नई आशा और नवीनता से भरना है। हमने पिछले साल असाधारण संयम और साहस का परिचय दिया। इस साल भी हमें कड़ी मेहनत करके अपने संकल्पों को सिद्ध करना है। अपने देश को, और तेज गति से, आगे ले जाना है।’