राजधानी में 21 किलो गांजा सहित… दबोचे गए तीन तस्कर

0
166

रायपुर। रायपुर में नशे के खिलाफ प्रभावी रूप से अंकुश लगाने हेतु लगातार चल रहे अभियान “ऑपरेशन क्लीन” के तहत कार्यवाही में पुलिस अधीक्षक अजय यादव, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक लखन पटेल की मां दशा एवं दिशा निर्देश पर मुखबिर की सूचना पर राजधानी पुलिस ने बीती रात तीन गांजा तस्करों को धर दबोचा है। इनके पास से 21 किलो गांजा बरामद किया गया है। पुलिस को गुमराह करने के लिए ये तस्कर अपनी कार को इस तस्करी में इस्तेमाल किया करते थे। गिरफ्तार युवकों में से एक ओडिशा का रहने वाला है। पुलिस को पता चला है कि ओडिशा का कोई बड़ा गिरोह इनके पीछे हो सकता है, जो छत्तीसगढ़ के शहरों में गांजे की सप्लाई में लगा हो। सभी पहलूओं की जांच की जा रही है।

Advertisement


आमानाका थाने की पुलिस को खबर मिली कि कुछ लोग दुर्ग की ओर गांजा लेकर जा रहे हैं। उसके बाद पुलिस ने रिंग रोड के टाटीबंध इलाके में नाकेबंदी की और हर वाहन की जांच की शुरू कर दी। इसी बीच तस्करों की कार वहां से गुजरी। गाड़ी को रोककर पुलिस ने पूछताछ की। आरोपियों ने कहा कि वो बेहद जल्दी में हैं, पुलिस उन्हें परेशान ना करे, जरुरी काम से वो दुर्ग जा रहे हैं। पुलिस द्वारा जब कार की जांच की गई । जांच के दौरान तीन बोरियों में भरा गांजा निकला। कार में सवार महासमुंद निवासी सुर्यकांत नाग, ओडिशा के बलांगिर जिले का उमेश मनहीरा, कांकेर निवासी धीरेंद्र मिश्रा को पुलिस अपने साथ थाने ले आई। महासमुंद जिले की सीमा ओडिशा से जुड़ती है। इससे पहले भी यहां ओडिशा के लोग गांजे के साथ गिरफ्तार हो चुके हैं। दुर्ग में कहां गांजे की डिलवरी थी और कहां से इन युवकों को भारी मात्रा में गांजा मिला इसकी छानबीन फिलहाल जारी है।

Advertisement