अंबिकापुर में मल्टीपरपज इंडोर हाल व महासमुंद में बनेगा सिंथेटिक एथलेटिक ट्रेक

0
63

रायपुर। छत्तीसगढ़ में खेल अधोसंरचनाओं को विकसित करने के राज्य सरकार के प्रयासों को एक और बड़ी सफलता मिली है। छत्तीसगढ़ राज्य में खेल अधोसंरचनाओं के विकास में एक और नया अध्याय जुड़ गया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की विशेष पहल पर केंद्रीय युवा कल्याण और खेल मंत्रालय ने खेलो इंडिया योजना के तहत अंबिकापुर में मल्टीपरपज इंडोर हाल के निर्माण और महासमुंद में सिंथेटिक एथलेटिक ट्रेक निर्माण के राज्य सरकार के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। यह दोनों प्रस्ताव छत्तीसगढ़ सरकार के खेल एवं युवा कल्याण संचालनालय ने केंद्र सरकार को भेजा था।

इसी महीने 17 अक्टूबर को केंद्रीय खेल मंत्रालय ने रायपुर में भारतीय खेल प्राधिकरण की आवासीय हाकी अकादमी व बिलासपुर के बहतराई में एथलेटिक्स एक्सिलेंस सेंटर शुरू करने को मंजूरी दी है।

इससे मुख्यमंत्री बघेल की खेलबो-जीतबो-गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ की परिकल्पना साकार होती दिख रही है। अफसरों ने बताया कि मुख्यमंत्री बघेल और खेल मंत्री उमेश पटेल के विशेष प्रयासों से भारत सरकार ने अंबिकापुर में मल्टीपरपज इंडोर हाल के निर्माण के लिए चार करोड़ 50 लाख और महासमुंद में सिंथेटिक एथलेटिक ट्रेक के निर्माण के लिए छह करोड़ 60 लाख रुपये की प्रशासकीय स्वीकृति जारी कर दी है।

मुख्यमंत्री व खेल मंत्री ने इस पर हर्ष व्यक्त करते हुए प्रदेश के खिलाड़ियों तथा खेल विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों को बधाई दी है। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि राज्य के खिलाड़ियों को बेहतर से बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए राज्य सरकार लगातार बड़े कदम उठा रही है। छत्तीसगढ़ के खिलाड़ियों के लिए अंतरराष्ट्रीय मापदंडों के अनुरूप खेल अधोसंरचनाओं का निर्माण किया जा रहा है।