कोरोना के बढ़ते आंकड़ों से रिजर्वेशन टिकट की बुकिंग घटी

0
130

रायपुर।  एक साल कोरोना की मार झेल चुके रेल प्रशासन सही तरह से पटरी पर लौटा था कि दोबारा कोरोना ने चपेट में ले लिया। कोरोना के बढ़ते आंकड़ों की वजह से रिजर्वेशन टिकट की बुकिंग पर असर दिखना शुरू हो गया है। रायपुर रेलवे आरक्षण केंद्र पर जहां प्रतिमाह 35 से 40 हजार टिकट की बुकिंग होती थी। अब यह आंकड़ा घटकर 30 हजार से भी कम हो गया है।शेष पढ़ें विज्ञापन के बाद….

Advertisement




नागपुर, इंदौर, मुंबई का रिजर्वेशन टिकट कैंसिल होने लगा है। वहीं, ट्रेन के बजाय निजी वाहनों से यात्रा करना यात्री पसंद कर रहे हैं। ऐसे में जहां महीने में लगभग 45 हजार टिकट की बुकिंग रायपुर आरक्षण केंद्र से होती थी, यह आंकडा लगभग 30 हजार तक पहुंच गया है। टिकट वापस करने वालों की संख्या देखे तो यह हर रोज 75 टिकट है।

थर्मल स्कैनर के भरोसे रेलवे

ट्रेन के माध्यम से संक्रमित राज्यों से प्रदेश में आ रहे यात्रियों की रेलवे स्टेशन पर किसी भी प्रकार से कोई जांच नहीं की जा रही है। ज्ञात हो कि रायपुर रेलवे स्टेशन से रोजाना लगभग पंद्रह हजार यात्री आवाजाही करते है। लेकिन रायपुर रेलवे स्टेशन पर सिर्फ थर्मल स्कैनर के भरोसे कोरोना की जांच की जा रही है।

रेलवे विभाग के अधिकारियों की मानें तो छत्तीसगढ़ से लगभग 22 ट्रेनों की आवाजाही नागपुर स्टेशन से होती हैं, जिसमें कि रायपुर रेलवे स्टेशन सहित दुर्ग, राजनंदगांव, बिलासपुर, भाटापारा, रायगढ़ जैसे प्रमुख स्टेशन शामिल है।

अनलाॅक के बाद से रायपुर रेलवे स्टेशन पर लगभग तीस से अधिक ट्रेनों का संचालन किया जा रहा हैै। वहीं नागपुर के लिए 11 ट्रेनें चल रही है। इसमें हावड़ा सुपरफास्ट एक्सप्रेस, हावड़ा मुंबई एक्सप्रेस, गीतांजली एक्सप्रेस, आजाद हिंद एक्सप्रेस, छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस, समता एक्सप्रेस, बीकानेर बिलासपुर एक्सप्रेस, रायपुर सिकंदराबाद एक्सप्रेस, पूरी अहमदाबाद एक्सप्रेस, गांधीधाम पुरी सुपरफास्ट एक्स्प्रेस, अजमेर पुरी एक्सप्रेस शामिल है।