प्रियंका गांधी का प्रयागराज दौरा, संगम में लगाई डुबकी, खुद चलाई नाव और किया पूजन

0
190

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मौनी अमावस्या पर गुरुवार को बेटी मिराया वाड्रा संग स्नान किया। इस दौरान बेटी की सहेली और उसकी मां भी साथ रहीं। संगम में स्नान के दौरान प्रियंका ने श्रद्धालुओं संग सेल्फी ली। संगम से अरैल घाट लौटते समय नाव की पतवार खुद ही संभाल ली थी और संदेश दिया कि 2022 के चुनाव में सियासी धारा को वह कांग्रेस पक्ष में मोड़ने के लिए तैयार हैं।

प्रियंका गांधी चार्टेड प्लेन से बमरौली एयरपोर्ट पर उतरीं। उन्हें एयरपोर्ट पर सुबह 10 बजे ही पहुंचना था लेकिन प्लेन करीब 11.40 बजे उतरा। इसके बाद करीब 12.28 बजे वह स्वराज भवन पहुंचीं। स्वराज भवन में जहां पर पं. जवाहर लाल नेहरू, इंदिरा गांधी और राजीव गांधी की अस्थियां रखी गईं थी, वहां जाकर श्रद्धांजलि अर्पित की।

अरैल घाट और संगम पर वह करीब 50 मिनट तक रहीं। इस दौरान उन्होंने श्रद्धालुओं से भी वार्ता की। साथ में सेल्फी भी ली। अरैल से प्रियंका गांधी सड़क मार्ग से ही मनकामेश्वर मंदिर पहुंचीं और दर्शन के अलावा शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती का भी आशीर्वाद लिया।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने एयरपोर्ट, स्वराज भवन और अरैल घाट पर प्रियंका का स्वागत किया। पार्टी के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी, उनकी बेटी आराधना मिश्रा, राष्ट्रीय सचिव बाजीराव खाड़े, मकसूद खान, प्रदेश महासचिव विवेकानंद पाठक आदि नेता हमेशा साथ-साथ रहे।