ऑनलाइन बटनदार चाकू मंगाने वालों के खिलाफ पुलिस ने शुरू किया तस्दीकी अभियान

0
156

रायपुर। पिछले कुछ दिनों पूर्व धारदार हथियार से हुई घटनाओं के मद्देनजर पुलिस उप महानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय कुमार यादव ने चाकूबाजी की घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए मातहत अधिकारियों को निर्देश दिए थे। इसके तहत थाना प्रभारियों ने कार्य योजना तैयार कर अवैध रूप से चाकू लेकर घूमने वालों और बिक्री करने वालों की पतासाजी शुरू कर दी है।

साथ ही ऑनलाइन शाॅपिंग साइट्स जैसे एमेजन, फ्लिपकार्ट सहित अन्य शाॅपिंग साइट से धारदार और घातक चाकू मंगाने वालों पर नजर रख कर आवश्यक वैधानिक कार्यवाही भी करना शुरू कर दिया गया है, ताकि चाकूबाजी की घटनाओं को रोका जा सके।

रायपुर पुलिस को तकनीकी माध्यमों से रायपुर शहर एवं आसपास के क्षेत्रों में निवासरत व्यक्तियों द्वारा वर्ष – 2020 में माह जनवरी से दिसंबर तक फ्लिपकार्ट के माध्यम से करीबन 800 लोगों द्वारा ऑनलाइन ऑर्डर कर धारदार एवं बटनदार चाकू मंगाने की सूची मिली है। सूची में नामित व्यक्तियों की रायपुर पुलिस द्वारा तस्दीकी अभियान शुरू किया गया है।

इस संबंध में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर लखन पटले ने समस्त थाना प्रभारियों की बैठक की और ऐसे लोगों को थाना बुलाकर तस्दीक करने निर्देशित दिया है। समस्त थाना प्रभारियों ने सूची के अनुसार अपने-अपने थाना क्षेत्रों में निवासरत लोगों एवं उनके परिजनों को थाना बुलाकर तस्दीक करना शुरू कर दिया है। साथ ही उनके परिजनों को उनके बच्चों द्वारा चाकू मंगाए जाने की जानकारी है या नहीं के संबंध में भी पूछताछ की जा रही है।

यदि ऐसे लोगों ने चाकू रखकर घूमने के लिए हथियार खरीदा है, तो चाकू को जमा कराया जा रहा है। वहीं, जिन लोगों ने किचन या अन्य उपयोग के लिए चाकू खरीदा है, उनसे लिखित में इसकी जानकारी ली जा रही है। नाबालिग बच्चों, अपराधिक प्रवृत्ति के लागों एवं नशाखोरी करने वालों के चाकू जब्त किया जा रहे हैं।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर लखन पटले ने समस्त थाना प्रभारियों को होली को ध्यान में रखते हुए त्योहार के पूर्व चाकू मंगाए जाने वाले सभी लोगों की तस्दीक करने का लक्ष्य दिया है। बताते चलें कि 17 मार्च को अभियान प्रारंभ करते हुए आज 18 मार्च तक अलग-अलग थाना क्षेत्रों से लोगों से लगभग 35 बटनदार चाकू जमा कराए जा चुके हैं और अभी यह अभियान जारी रहेगा।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर लखन पटले ने थाना प्रभारियों को सख्त निर्देश दिए हैं कि होली के दौरान उत्पात मचाने वाले लोगों को चिह्नांकित कर ऐसे अपराधिक तत्वों और उपद्रवी व्यक्तियों के विरूद्ध होली के पूर्व ही सख्त से सख्त आवश्यक वैधानिक कार्यवाही की जाए।