बाबा गुरु घासीदास की जयंती पर शोभायात्रा को अनुमति नहीं,कार्यक्रम में शामिल होंगे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और मंत्री शिव डहरिया

0
219

रायपुर। कोरोना संक्रमण का असर बाबा गुरु घासीदास जयंती पर देखने को मिल रहा है। राजधानी रायपुर में इस बार सतनाम समाज की शोभायात्रा को प्रशासन ने अनुमति नहीं दी है। ऐसा कोरोना संक्रमण के मद्देनजर किया गया है।

Advertisement


दरअसल हर साल गुरु घासी दास की जयंती 18 दिसंबर से दो दिन पूर्व राजधानी रायपुर में एक विशाल शोभायात्रा निकाली जाती थी। यह यात्रा आमापारा से गुरु घासीदास चौक(घड़ी चौक) तक निकलती थी। इस दौरान हजारों की संख्या में सतनाम पंथ के लोग मौजूद रहते थे। जगह-जगह शोभायात्रा का स्वागत भी किया जाता है। लेकिन इस बार ऐसा कोई आयोजन नहीं हो रहा है।

गुरु घासीदास साहित्य एवं संस्कृति अकादमी के अध्यक्ष केपी खंडे ने बताया कि गुरु घासीदास जयंती समारोह का आयोजन गुरु घासीदास साहित्य एवं संस्कृति अकादमी के द्वारा किया जा रहा है। कोरोना काल को देखते हुए शासन की गाइडलाइन का पालन किया जाएगा।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल होंगे। कार्यक्रम की अध्यक्षता नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया करेंगे। कार्यक्रम में संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत, स्कूल शिक्षा मंत्री प्रेम साय सिंह टेकाम भी शामिल होंगे। यह कार्यक्रम 18 दिसंबर न्यू राजेन्द्र नगर में आयोजित होगा। वहीं गुरु घासीदास सामाजिक चेतना और अनुसूचित जाति उत्थान का सम्मान भी इस कार्यक्रम में दिया जाएगा।

Advertisement