छेड़छाड़ ने ली छात्रा की जान, सुसाइड नोट पढ़कर रो देंगे आप

0
65

झाँसी: एरच थाना क्षेत्र में छेड़खानी से परेशान एक छात्रा ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस को छात्रा के पास से एक सुसाइड नोट मिला है। इसमें छात्रा ने पड़ोस में रहने वाले लड़के आकाश का नाम लिखा है और बताया है कि उसकी मौत की वजह वही है। छात्रा ने अपने परिवार से मौत का बदला लेने की भी अपील की है। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस ने लड़के को परिजनों को हिरासत में ले लिया है जबकि आरोपी फरार है।

छेड़छाड़ से थी परेशान

एरच थाना क्षेत्र के कसबे में रहने वाली लड़की कक्षा 11 वीं की छात्रा थी।बीते रोज वह कसबे में स्थित एक कोचिंग सेंटर में पढ़ने गई थी। पढ़ने के बाद जब वह घर वापस लौट रही थी, तभी कसबे में रहने वाले एक किशोर ने उसे पकड़ लिया और छेड़छाड़ की। इसकी जानकारी छात्रा ने अपने परिजनों को बताई थी, लेकिन लोक लाज के चलते परिजनों ने पुलिस से इसकी शिकायत नहीं की थी, जबकि आपस में ही मामला सुलझाने की कोशिश की गई।

शुक्रवार को जब लड़की ट्यूशन पढ़कर घर लौट रही थी, फिर से उसने छेड़खानी की थी। घर आकर उक्त बात फिर से परिजनों को बताई। इसी बात पर लड़की के परिजन आरोपी लड़के के परिजनों से वार्तालाप करने लगे। तभी लड़के परिजनों ने लड़की के परिजनों को काफी बेइज्जत किया। यही नहीं, झगड़ा भी करने लगे थे। इसकी जानकारी छात्रा को हुई तो उसने विषाक्त पदार्थ का सेवन कर लिया। थोड़ी देर बाद परिजन घर पहुंचे तो छात्रा बेहोशी हालात में कमरे में पड़ी थी। आनन-फानन में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया। हालात में सुधार न होने पर उसे मेडिकल कालेज लाया गया। यहां छात्रा ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया।

लिखा इमोशनल सुसाइड नोट

घर पहुंची पुलिस ने छात्रा के बैग की तलाशी ली, तो उसमें एक सुसाइड नोट मिला। नोट में लिखा था – ‘पापा -मम्मी हमें माफ कर देना, हम आत्महत्या कर रहे है, हमारी मौत का कारण सिर्फ आकाश और उनके घर वाले है’। हमारी मौत खाली मत जाने देना। शिवम के पापा से एक विनती है कि हमारे पापा- मम्मी को कभी अकेला मत छोड़ना। पापा, शिवी, अंशिका, गुड़िया को अपनी अंजली समझना। भगवान करे कि हमें हर जनम में तुम जैसे मम्मी-पापा और अनुराग जैसा भाई मिले। नानाजी कभी भूल मत जाना कि अंजली नाम की हमारी एक नातिन थी।

पापा-मम्मी तुम्हें हमारी कसम है। अपने आप को शंभाल लेना। और हमारी मौत का बदला लेना। हम चाहते थे कि पापा हम आपका सिर गर्व से ऊंचा करेंगे। पुलिस बनकर हम ये नहीं चाहते थे कि हमारे बाप-दादा का सिर झुके। हम अपने पापा कि तरह बात को सहन नहीं करते हैं। हम इज्जत पर कोई सवाल नहीं आने देंगे। पापा हमारी मौत का बदला आकाश और उनके घर वालों से ले लेना। तभी हमारी आत्मा को शांति मिलेगी। पापा आपकी अंजली

एसएसपी ने कहा- जल्द पकड़ा जाएगा फरार आरोपी

एसएसपी दिनेश कुमार पी ने बताया कि परिजनों की तहरीर पर आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। आरोपियों के परिवार वालों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। मुख्य आरोपी आकाश अब भी फरार है जबकि उसकी तलाश में एरच, गुरसरांय और गरौठा थाने की पुलिस टीम लगी हैं। जल्द से जल्द आरोपी को पकड़ लिया जाएगा।