यदि आपके कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट में नाम, बर्थ डेट या जेंडर गलत हैं तो CoWin पोर्टल पर करें सही

0
351

कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ जंग में देशभर में तेजी से वैक्सीनेशन किया जा रहा है। इसके लिए लोगों को कोविन (CoWin) ऐप पर रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य है, लेकिन इस बीच कई लोगों को समस्याएं आ रही है और उनकी शिकायत है कि उन्होंने गलती से रजिस्ट्रेशन के दौरान अपनी डिटेल गलत डाल दी है। इस वजह से वैक्सीन सर्टिफिकेट पर भी गलत डिटेल आ रही है। तो चलिए आपको बताते हैं कोविन पोर्टल (cowin.gov.in) पर इसे कैसे सही किया जा सकता है ।

नाम, बर्थ डेट और जेंडर को कर सकते हैं सही

कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) लगवाने के लिए कोविन (CoWin) पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन के दौरान किसी ने गलती से अपना नाम, जन्मतिथि या जेंडर गलत लिख दिया है और वैक्सीन सर्टिफिकेट (Vaccine Certificate) में भी यह गलत दिख रहा है तो अब इसमें सुधार कोविन पोर्टल (cowin.gov.in) पर किया जा सकता है। इसके बाद वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट पर सही नाम, जन्मतिथि और जेंडर आ जाएगा। हालांकि डिटेल को सिर्फ एक बार ही अपडेट किया जा सकता है।

वैक्सीन लगवाने के बाद गलती को कर सकते हैं ठीक

अगर आपने वैक्सीन लगवा लिया है और वैक्सीन सर्टिफिकेट (Vaccine Certificate) में कोई गलती है तो आप कोविन पोर्टल (cowin.gov.in) इसे ठीक कर सकते हैं। पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन के दौरान हुई गलती को ठीक कर दें और फिर से नया सर्टिफिकेट डाउनलोड कर सकते हैं।

कैसे कर सकते हैं गलती में सुधार

कोविन पोर्टल (cowin.gov.in) पर जाना होगा और अपना मोबाइल नंबर डालकर लॉग-इन करना होगा। लॉग-इन करने के बाद अकाउंड डिटेल के नीचे Raise an Issue पर क्लिक करें, मेंबर का नाम सेलेक्ट करने के बाद Correction in Certificate को सेलेक्ट करें. इसके बाद नीचे नाम, जन्म का साल और जेंडर का ऑप्शन आ जाएगा, जहां से आप इसे सही कर सकते हैं।

सोशल मीडिया पर ना शेयर करें वैक्सीन सर्टिफिकेट

गृह मंत्रालय के अधीन काम करने वाली संस्था साइबर दोस्त ने ट्वीट करके लोगों को सोशल मीडिया पर वैक्सीन सर्टिफिकेट शेयर ना करने की सलाह दी है। साइबर दोस्त ने ट्वीट करके कहा है कि कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेट में नाम, उम्र और लिंग और अगले डोज की तारीख समेत कई जानकारियां शामिल होती हैं। इन जानकारियों को सोशल मीडिया पर शेयर करना आपको महंगा पड़ सकता है। आपकी इन जानकारियों का इस्तेमाल साइबर ठग आपके साथ धोखाधड़ी कर सकते हैं। इसलिए वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट को सोशल मीडिया पर शेयर ना करें।