किसानों के लिए खुशखबरी,PM Modi जारी करेंगे PM Kisan की आठवीं किस्त

0
123

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के आठवीं किस्त का इंतजार कर रहे किसानों के लिए एक बड़ी खबर सामने आई है। पिछले साल दिसंबर में इस योजना के तहत किसानों को सातवीं किस्त मिली थी। चुनाव और कोरोना महामारी के कारण आठवीं किस्त में देरी हुई. लेकिन अब उनका इंताजर खत्म होने वाला है।

कृषि मंत्रालय के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 14 मई यानी शुक्रवार को सुबह 11 बजे किसानों से बात करेंगे। इसके बाद वे पीएम किसान योजना के तहत अगली किस्त जारी करेंगे। पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत रजिस्टर्ड किसानों को इस संबंध में मंगलवार की सुबह मैसेज भी आया है। मैसेज में लिखा है, ‘माननयी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी 14 मई 2021 को दिन में 11 बजे किसानों के साथ बातचीत करेंगे एवं पीएम किसान योजना के तहत अगली किस्त जारी करेंगे। इस कार्यक्रम में आप pmindiawebcast.nic.in अथवा दूरदर्शन के माध्यम से जुड़ सकते हैं. आप कार्यक्रम में सम्मिलित होने के लिए सादर आमंत्रित हैं.’

1 दिसंबर 2018 से प्रभावी है योजना

लोकसभा चुनाव 2019 से पहले 24 फरवरी 2019 को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की शुरुआत हुई थी. हालांकि इसे 1 दिसंबर 2018 से प्रभावी माना गया था. पहली बार 3 करोड़ 16 लाख 05 हजार 539 किसानों को दो हजार रुपए की किस्त मिली थी. अब तक इस योजना के तहत 10 करोड़ से अधिक किसान रजिस्टर्ड हो चुके हैं. दिसंबर में जारी हुई किस्त 10 करोड़ 70 हजार 978 किसानों को मिली थी. वित्त वर्ष 2020-21 के अप्रैल-जुलाई वाली किस्त में सबसे ज्यादा किसानों को पैसा मिला था. इस दौरान केंद्र सरकार ने कुल 10 करोड़ 48 लाख 95 हजार 545 किसानों के खाते में दो हजार रुपए भेजे थे.

2-2 हजार की तीन किस्त में सालाना 6000 रुपए मिलते हैं

पीएम किसान योजना की सातवीं किस्त 25 दिसंबर 2020 को रिलीज हुई थी. तब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 9 करोड़ किसानों के लिए एक साथ पैसा जारी किया था. तब से अब तक 10 करोड़ 71 हजार 7 किसानों के बैंक अकाउंट (Bank Account) में पैसा भेजा जा चुका है. दिसंबर 2019 से मार्च 2020 तक 8 करोड़ 95 लाख 15 हजार 225 किसानों को पैसा मिला था. इसके तहत 2-2 हजार रुपए की तीन किस्त में किसानों (Farmers) को सालाना 6000 रुपए मिलते हैं. ताकि वे खेती-किसानी के काम में उसका इस्तेमाल कर सकें.

पश्चिम बंगाल के 10 लाख किसानों के अकाउंट में आ सकता है पैसा

कृषि मंत्रालय के नवंबर, 2020 तक के आंकड़ों के मुताबिक, पश्चिम बंगाल के 21.79 लाख किसानों ने पीएम किसान योजना के लिए पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराया था. 14 लाख 91 हजार किसानों का डेटा पोर्टल पर अपलोड है और इसमें से 9.84 लाख डेटा पब्लिक फाइनेंसियल मैनेजमेंट सिस्टम (पीएफएमएस) के लिए तैयार है. पीएफएमएस के लिए डेटा तैयार होने का मतलब है कि इन किसानों के खाते में 2-2 हजार रुपए भेजने के लिए जरूरी औपचारिकताएं पूरी कर ली गई हैं. ऐसे में माना जा रहा है कि इन किसानों इस बार पैसे मिलेंगे.