प्रदेश में कोरोना चरम पर: मुख्यमंत्री चुनावी दौरे पर और स्वास्थ्य मंत्री अधिकारविहीन हैं-सुनीलसोनी

0
115

रायपुर । रायपुर लोकसभा सांसद सुनील कुमार सोनी ने आज पत्रकारों से चर्चा करते हुए कोरोना के बढ़ते हुए मामलों पर गहरी चिंता व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि दुर्भाग्यजनक है कि इस विकट स्थिति में भी प्रदेश के मुखिया चुनावी दौरे पर हैं। कुछ माह पूर्व छत्तीगसढ़ कोरोना मुक्त छत्तीसगढ़ की ओर बढ़ रहा था। वास्तव में कोरोना बढ़ने के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री जिम्मेदार हैं, विगत कुछ महीनों से हमारा छत्तीसगढ़ कोरोना नियंत्रण की दिशा में सफल भी हुआ। लेकिन सस्ती लोकप्रियता के चलते मैच का आयोजन करवाकर मुख्यमंत्री जी ने कोरोना को निमंत्रण दिया है। जहां अनेक खिलाड़ी कोरोना संक्रमित हुए हैं, वहीं अब प्रदेश की जनता कोरोना के सामने लाचार है। छत्त्तीसगढ़ को छोड़कर अनेक प्रदेशों में दर्षकविहिन मैचों का आयोजन किया गया और प्रदेश के मुखिया खुद बिना मास्क के दर्षकदीर्घा में थे।शेष पढ़ें विज्ञापन के बाद…

Advertisement


 




सोनी ने कहा कि छत्तीसगढ़ में कोरोना एक बार फिर चरम पर है। प्रदेश की सरकार ने बैठक लेकर केवल खानापूर्ति की है, जिन अधिकारियाें को व्यवस्था कायम करनी हैं उन्हें ही नहीं पता कि करना क्या है ?

दुर्भाग्यजनक है कि प्रदेष के स्वास्थ्य मंत्री लाचार, असहाय हैं और उनके पास अधिकार ही नहीं है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की सरकार ने केन्द्र सरकार से प्राप्त 230 वेंटीलेटर का उपयोग ही नहीं किया है, अनेक सरकारी अस्पतालों में जगह नहीं है। सरकार से मेरा आग्रह है कि सरकार हाथ पर हाथ रखे न बैठकर व्यवस्था को दुरूस्त करें। सरकार की प्राथमिकता लोगों के जीवन को बचाना हो, लोगों को अधिक से अधिक सुविधा हो, वेंटीलेटर की सुविधा हो, अस्पतालों की सुविधा हो, वेक्सिन सेंटर बढ़ायें जायें, वेक्सिन लगाने के साथ ही अस्पताल लाने ले जाने की सुविधा में बढ़ोत्तरी हो।

सांसद सोनी ने कहा कि प्रदेश की जनता प्रशासनिक अराजकता की शिकार है, सरकार से कुछ होने वाला नहीं है। उन्होंने प्रदेश की जनता से हाथ जोड़कर अपील करते हुए कहा कि जनता तैयार रहे और केन्द्र की गाईडलाइन अनुसार वेक्सिन लगवायें। लोग सावधानी रखें, कोरोना की गाईडलाईन का पालन करे तथा सभी लोग मास्क का उपयोग कर दूरी बनाकर रखें। हाथ धोने के लिए साबुन और सेनीटाईजर का उपयोग करें।