छत्तीसगढ़ में कोरोना ने तोड़े सारे रिकॉर्ड,एक दिन में मिले 4617 नए संक्रमित,25 मौतें

0
191

रायपुर । छत्तीसगढ़ में कोरोना के बढ़ते आंकड़ों को देखते हुए अब सरकार ने सख्त कदम उठाने का फैसला किया है। बता दे, बीते 24 घंटे में सूबे में कोरोना के 4617 नए मरीज मिले हैं। एक दिन में कोरोना संक्रमण से 25 लोगों की मौत भी हो गई है। राजधानी रायपुर से फिर एक बार सबसे ज्यादा केस मिले है। 1327 मरीज रायपुर से तो वहीं 996 नए मरीज दुर्ग से मिले हैं। रायपुर में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है। इसे लेकर कलेक्टर एस भारतीदासन ने आदेश जारी कर दिया है। जिला प्रशासन के निर्देश के मुताबिक, सभी तरह की दुकानें केवल रात 9 बजे तक खुली रहेंगी। रेस्टोरेंट, होटल और ढाबे केवल रात 10 बजे तक शुरू रहेंगे।

रात 11:30 बजे तक ही रेस्टोरेंट और होटलों से होम डिलीवरी हो पाएगी। प्रशासन के आदेश का उल्लंघन करने पर 15 दिनों के लिए दुकानों को सील कर दिया जाएगा। कलेक्टर ने धारा 144 का कड़ाई से पालन करने के निर्देश दिए हैं। पेट्रोल पंप और मेडिकल दुकानों को इन नियमों से छूट दी गई है। छत्तीसगढ़ में 24 घण्टे में 1007 मरीजों ने कोरोना को मात देने में सफलता हासिल की है। नए केस सामने आने के बाद अब सूबे में एक्टिव मरीजों की संख्या 28987 हो गई है। कोरोना से अब तक 4204 लोगों की मौत रिकॉर्ड की गई है। अब तक 320613 मरीज कोरोना से रिकवर हुए हैं।

रायपुर और दुर्ग के अलावा राजनांदगांव में 437, बिलासपुर में 288, महासमुंद में 182, बालोद में 130, बेमेतरा में 118, धमतरी में 115, बलौदाबाजार में 104, कोरबा में 104 और जशपुर में 101 नए मरीजों की पुष्टि हुई है।

सरकार का बड़ा फैसला

कोरोना के बढ़े मामलों के बीच राज्य सरकार ने एक बड़ा फैसला किया है। मंत्रालय-संचालनालय में 50% कर्मचारियों को अब काम करने की इजाजत होगी। सरकार ने एक-एक सप्ताह के रोस्टर में ड्यूटी लगा दी है। 45 साल से अधिक के कर्मचारी को टीका लगवाना अब अनिवार्य कर दिया गया है। मालूम हो कि मंत्रालय-संचालनालय के 50 से अधिक कर्मचारी कोरोना संक्रमित हो गए हैं।