जशपुर में हुई घटना पर मुआवजा राशि को लेकर गरमाई राजनीति, एक करोड़ की मांग पर जशपुर बंद का ऐलान

0
147

छत्तीसगढ़ में जशपुर के पत्थलगांव में हुई घटना के बाद अब मुआवजे की राजनीति शुरू हो गई है।राज्य सरकार ने मृतकों के परिजनों को 50 लाख रुपए देने की घोषणा की है।

वहीं भाजपा ने मृतकों के परिजनों को एक करोड़ और घायलों को 25-25 लाख रुपया देने की मांग करी है। जिसे लेकर आज शनिवार को जशपुर बंद का ऐलान किया गया।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि भाजपा पहले आपस में तय कर लें उनका हर नेता अलग-अलग मांग कर रहा है। मुख्यमंत्री ने स्थानीय विधायक राम पुकार सिंह से चर्चा के बाद मुआवजे की घोषणा की है ‌। स्थानीय लोगों का कहना है कि घटना के समय ड्यूटी पर मौजूद सभी पुलिसकर्मियों को सस्पेंड किया जाए और 75 लाख रुपए का मुआवजा मिले।

वहीं घटना स्थल पर पहुंचे भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने एसपी को हटाने की मांग भी करी कहा गांजा तस्करी के चलते यह घटना हुई है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा-भाजपा राजनीति करना बंद करें

दिल्ली में कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में रवाना होने से पहले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने एयरपोर्ट पर मीडिया से बात की और कहा कि भाजपा नेता अलग-अलग मुआवजा राशि की मांग कर रहे हैं। जहां डॉक्टर रमन सिंह 50 लाख कहते हैं ,तो नेता प्रतिपक्ष 75 लाख रुपए की मांग करते हैं तो कोई एक करोड़। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि मृतक परिवार को एक बहुत बड़ा नुकसान हुआ है उसकी भरपाई रुपयों से नहीं की जा सकती। ऐसी घटना पर सरकारी सहायता दी जाती है ना कि राजनीति ।