पंचायतों में योजनाओं का बेहतर क्रियान्वयन कर ग्रामीणों को अधिकाधिक लाभ दिलाएं:मंत्री अकबर

0
447

रायपुर । वन एवं जलवायु परिवर्तन, आवास एवं पर्यावरण मंत्री मोहम्मद अकबर ने आज राजधानी के शंकरनगर स्थित अपने निवास कार्यालय से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से विभिन्न ग्राम पंचायतों के सरपंचों से जुड़कर वहां संचालित विकास कार्यों की समीक्षा की।विकास कार्यों के चर्चा के दौरान कबीरधाम जिले के बोड़ला जनपद पंचायत के अंतर्गत विभिन्न ग्राम पंचायतों के सरपंच तथा सचिव शामिल हुए।

वन मंत्री अकबर ने जिला पंचायत स्तर पर सरपंचों के द्वारा मांग किए गए सभी रोजगारमूलक कार्यों का परीक्षण उपरान्त स्वीकृति के लिए आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होंने इस दौरान शासन स्तर से स्वीकृति मिलने वाले बड़े कार्यों का प्रस्ताव भी भेजने निर्देशित किया। इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी विजय दयाराम के. सहित संबंधित विभागीय अधिकारी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जुड़े।

वन मंत्री मोहम्मद अकबर ने ग्राम पंचायत के सरपंच और सचिव से एक-एक कर चर्चा की और संबंधित ग्राम पंचायत के पंचायत एवं ग्रामीण विकास के साथ-साथ वहां संचालित विकास कार्यों के बारे में जानकारी ली। मंत्री अकबर ने सभी सरपंचों को अपने-अपने ग्राम पंचायत में योजनाओं का बेहतर क्रियान्वयन कर ग्रामीणों को अधिक से अधिक लाभ दिलाए जाने के लिए कहा। उन्होंने संबंधित सरपंच और सचिवों से चर्चा करते हुए ग्राम पंचायतों में जन सुविधा के विस्तार के लिए योजनाओं का तेजी से क्रियान्वयन के लिए विशेष जोर दिया।

वन मंत्री अकबर ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में आज जनपद पंचायत बोड़ला के अंतर्गत चेन्द्रादादर, बांटीपथरा, केसमर्दा, आमानारा, कुकरापानी, पीपरखुंटा, मगरवाडा, तरेगांव जंगल, दुर्जनपुर, छुही, लरबक्की, बैजलपुर, सिंघारी, दलदली, भुरसीपकरी, बोरिया, अंधरीकछार, खण्डसरा, मडमडा, लब्दा, बोदा-03, छांटा, कबराटोला, अचानकपुर, भलपहरी, कामाडबरी, खरिया, मुडघुसरी मैदान, मुडघुसरी जंगल, बैरख, चोरभट्टी, भोंदा, बोल्दाकला, खडौदाखुर्द, नेऊरगांवकला आदि ग्राम पंचायतों के काम-काज की समीक्षा की।