कुलदीप जुनेजा ने नई-पुरानी हाउसिंग परियोजनाओं का किया निरीक्षण,कीमतें घटा बेचे जाएंगे वर्षों से खरीदारों की बाट जोह रहे मकान

0
181

कोरबा । हाउसिंग बोर्ड के चेयरमैन व रायपुर उत्तर के विधायक कुलदीप जुनेजा बुधवार को जिले के एकदिवसीय प्रवास पर रहे। उन्होंने कोरबा की नई-पुरानी हाउसिंग परियोजनाओं का निरीक्षण किया। इस दौरान उरगा व रामपुर कालोनी में वर्षों बाद भी खरीदारों की बाट जोह रहे मकानों को कीमतें घटाकर विक्रय किए जाने की बात कही। इनके अलावा जुनेजा ने स्याहीमुड़ी व निर्माणाधीन कन्वेंशन हाल का भी निरीक्षण कर जानकारी प्राप्त की।

हाउसिंग बोर्ड की अनेक कालोनियों में बड़ी संख्या में मकान और कुछ व्यावसायिक भवन खाली पड़े हैं, जिनके विक्रय के लिए निर्माण के वर्षों बाद भी खरीदारों का इंतजार जारी है। एक दिवसीय प्रवास पर कोरबा पहुंचे छत्तीसगढ़ हाउसिंग बोर्ड के चेयरमैन व रायपुर उत्तर के विधायक कुलदीप जुनेजा ने इन मकानों के लिए कीमतें कम किए जाने के संबंध में हो रहे विचार की जानकारी प्रदान की।

प्रवास के दौरान उन्होंने हाउसिंग बोर्ड की कोरबा में अवस्थित विभिन्ना परियोजनाओं का निरीक्षण किया और अधिकारियों से जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने गोपालपुर स्थित जमीन का अवलोकन किया जहां आने वाले समय पर हाउसिंग बोर्ड द्वारा भवन निर्माण कराया जाएगा। इस बीच वे प्रेस क्लब तिलक भवन में मीडिया से भी रूबरू हुए। इस मौके पर निगम महापौर राजकिशोर प्रसाद निगम सभापति श्यामसुंदर सोनी व हाउसिंग बोर्ड के अधिकारीगण मौजूद रहे। जुनेजा ने बताया कि हाउसिंग बोर्ड के नए मकानों के लिए भाड़ा क्रय पद्धति के लिए प्रस्ताव बनाया गया है और जल्दी उस पर निर्णय ले लिया जाएगा। इससे आने वाले समय में गरीब लोगों को भी मकान खरीदने में सहूलियत होगी।

उरगा में अधिकारियों समेत किया पौधरोपण

जुनेजा ने बताया कि हाउसिंग बोर्ड के उन मकानों को बेचने का कार्य किया जा रहा है, जो काफी समय पहले बनकर तैयार हैं, पर उनके खरीददार नहीं मिल रहे। उनके दामों में भी कमी करने का प्रस्ताव लाया गया है। इस प्रस्ताव में ऐसे मकानों का मूल्य 10 से 15 प्रतिशत तक कम किए जा सकते हैं। अपने दौरे में उन्होंने उरगा, झगरहा, गोपालपुर में चिन्हांकित भूमि, स्याहीमुड़ी व कन्वेंशन हाल का निरीक्षण किया। उरगा में निरीक्षण के बाद जुनेजा ने हाउसिंग बोर्ड रायपुर के आयुक्त अय्याज तंबोली व अन्य आला अधिकारियों समेत पौधरोपण भी किया।

शिकायत पर लोगों को सोसायटी बनाने सुझाव

जुनेजा ने बताया कि उन्हें यहां पर काफी शिकायतें भी मिली हैं, जिनके निराकरण के लिए हाउसिंग बोर्ड के अधिकारियों को निर्देशित किया गया है। सेमीपाली-उरगा कालोनी के निवासियों से भी कहा गया है कि वह सोसाइटी बनाकर अपने आसपास के क्षेत्रों को स्वच्छ बना सकते हैं। उनकी मंशा है कि हाउसिंग बोर्ड को किसी प्रकार की कोई हानि न हो। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा शासन में कहीं पर भी हाउसिंग बोर्ड की कालोनी बना दी गई है, जिस वजह से आज भी उसके खरीदार नहीं मिल पा रहे। उनका प्रयास है कि जल्द से जल्द खाली पड़े मकानों का विक्रय किया जाए।