राजधानी के जगन्नाथ मंदिर में 12 जुलाई को नहीं निकलेगी रथयात्रा

0
174

रायपुर। राजधानी के गायत्री नगर स्थित जगन्नाथ मंदिर में इस बार भी रथयात्रा नहीं निकाली जाएगी। भगवान जगन्नाथ मंदिर में ही भ्रमण करेंगे और मंदिर परिसर में 50 लोगों को एक बार में प्रवेश की अनुमति दी जाएगी। राज्यपाल और मुख्यमंत्री रायपुर के जगन्नाथ मंदिर में वर्चुअल माध्यम से जुड़ेंगे, इसलिए मंदिर परिसर में छेरा-पहरा की रस्म भी नहीं निभाई जाएगी, क्योंकि नियम के मुताबिक छेरा पहरा की रस्म राज्य के मुखिया के द्वारा ही निभाई जाती है।

बता दें की जगन्नाथ मंदिर के संचालक पुरेन्द्र मिश्रा ने बताया कि रथयात्रा का कार्यक्रम सोमवार सुबह 5:30 बजे से लेकर रात के 9 बजे तक चलेगा। पिछले साल के अनुसार ही कोरोना गाइडलाइन का पालन किया जाएगा। रथ यात्रा का आयोजन केवल पूजा पाठ तक सीमित रखा गया है। भगवान जगन्नाथ नगर भ्रमण में नहीं निकलेंगे, इसलिए बाहर के लिए रथ नहीं बनाया जा रहा है। मंदिर परिसर में ही सारे कार्यक्रम होंगे।

वहीं जगन्नाथ मंदिर के संचालक का कहना है कि राज्यपाल और मुख्यमंत्री वर्चुअल जुड़कर भगवान की पूजा करेंगे। इसलिए छेरा पहरा की रस्म इस बार स्थगित की जा रही है। व्यवस्था इस बार ऐसी की जा रही है, कि 50 लोगों को एक बार में मंदिर परिसर में प्रवेश के अनुमति होगी। क्रमानुसार यही व्यवस्था चलेगी।