होटल के कमरे में डॉक्टर की खुदकुशी की कहानी निकली झूठी, दोस्त ने हीं गला घोटकर की थी हत्या

0
103

रायपुर। राजधानी के होटल संदीप के कमरे में मिली डॉक्टर जितेंद्र के आत्महत्या की कहानी झूठी निकली है। दरअसल उसके दोस्त अजय निषाद ने विवाद के बाद झूठी कहानी गढ़ हत्या को आत्महत्या में परिवर्तित कर दिया था। मिली जानकारी के अनुसार आरोपी अजय निषाद मृतक डॉक्टर जितेंद्र को बहला-फुसलाकर मध्य प्रदेश के उमरिया (शहडोल) से लेकर आया था। यहाँ आने के बाद उसे जमकर शराब पिलाई और फिर गला घोंटकर उसे मौत के घाट उतार दिया। इसके बाद उसे फंदे से लटकर फ़रार हो गया।

सीएसपी अविनाश ठाकुर के मुताबिक़ दोनों के बीच हत्या की रात जमकर मारपीट भी हुई थी। पूछताछ में आरोपी अजय निषाद ने बताया कि वह एसईसीएल कोतमा अनूपपुर मध्य प्रदेश में कार्यरत है। उसका मृतक के साथ घरेलू संबंध था एवं एक दूसरे के घर आना-जाना था। जितेंद्र विश्वकर्मा का आरोपी की मां के साथ अवैध संबंध था इस बात की जानकारी आरोपी को होने पर उसने हत्या की योजना बनाई । मृतक को जमकर शराब पिलाकर गला घोट कर उसकी हत्या कर दी। आरोपी अजय निषाद को पुलिस ने गिरफ़्तार कर धारा 302,201 के तहत केस दर्ज किया है।