CBSE ने किया 10वीं और 12वीं कक्षा की परीक्षा को लेकर बड़ा ऐलान, छात्रों ने ली राहत की सांस

0
47

नई दिल्ली: केंद्रीय माध्‍यमिक शिक्षा परिषद यानी सीबीएसई ने टर्म 1 बोर्ड परीक्षा की तारीखों की घोषणा कर दी है. इसके साथ ही बोर्ड ने 10वीं और 12वीं की परीक्षा देने वाले छात्रों को राहत दी है और दूसरे शहर से परीक्षा देने की सुविधा देते हुए इसके लिए उन्हें अपने स्कूल से आवेदन करने को हरी झंडी दे दी है. हालांकि बोर्ड ने यह भी साफ किया है कि एग्जाम सिर्फ ऑफलाइन मोड से ही आयोजित की जाएंगे.

सीबीएसई (CBSE) के इस फैसले से उन छात्रों को फायदा होगा, जो वर्तमान समय में अपने स्कूल वाले शहर में नहीं रहकर देश के किसी अन्य शहर में रह रहे हैं. बता दें कि कोरोना महामारी की वजह से लगाए गए लॉकडाउन के बाद छात्र अपने होम टाउन चले गए हैं और अब उन्हें परीक्षा (CBSE Class 10th and 12th Term 1 Board Exam) देने में आसानी होगी.

छात्रों के पास आवेदन करने के लिए आखिरी दिन 

हालांकि सीबीएसई (CBSE) के 10वीं और 12वीं के छात्रों के पास एग्जाम सेंटर बदलने के लिए सिर्फ आज का ही समय है. स्टूडेंट्स अपने संबंधित स्कूल से एग्जाम सेंटर बदलने के लिए 10 नवंबर की मध्य रात्रि तक अनुरोध कर सकते हैं. छात्रों से मिले आवेदन को स्कूल 12 नवंबर की मध्य रात्रि तक बोर्ड की वेबसाइट पर अपलोड करेंगे.

छात्र कैसे बदल सकेंगे अपने एग्जाम सेंटर

छात्रों को एग्जाम सेंटर बदलने के लिए अपने स्कूलों के पास आवेदन करना होगा. बोर्ड ने यह भी साफ किया है कि आवेदन के लिए छात्रों के पास सिर्फ एक दिन का समय है और अंतिम तिथि के बाद कोई भी आवेदन स्वीकार नहीं किया जाएगा.

कब शुरू होंगी 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं

सीबीएसई (CBSE) भारत और विदेशों में सभी संबद्ध स्कूलों में डेट शीट तय करके परीक्षा आयोजित करेगा. इस बार 10वीं क्लास की परीक्षा 17 नवंबर से और 12वीं क्लास की परीक्षा 16 नवंबर से शुरू होगी.

CBSE फॉर्मेट में हुए बदलाव

इस बार CBSE की परीक्षाएं 2 बार में कराई जाएंगी. इन परीक्षाओं का पहला टर्म नवंबर- दिसंबर 2021 में होना है तो वहीं दूसरा टर्म मार्च- अप्रैल 2022 में होना है. दोनों टर्म की परीक्षाओं में 50-50 % सिलेबस से प्रश्न पूछे जाएंगे. लेकिन रिजल्ट दोनों परीक्षाओं के अंकों को मिलाकर जारी किया जाएगा.

कुछ इस तरह होंगी परीक्षाएं

इस बार टर्म-1 की परीक्षा 90 मिनट की आयोजित की जाएगी जोकि MCQ आधारित होगी. छात्रों को अपने जवाब को OMR सीट पर भरना होगा. वहीं, टर्म-2 की परीक्षा 2 घंटे की होगी. इसमें डिस्‍क्र‍िप्‍ट‍िव सवाल होंगे. टर्म 2 का प्रश्‍न पत्र अलग फॉर्मेट में होगा. हालांकि टर्म-2 में कुछ शॉर्ट और लॉन्‍ग दोनों तरह के सवाल हो सकते हैं. के दौरान अगर देश में कोरोना की स्थिति बिगड़ी तो इस तरीके में बदलाव किया जा सकता है.