आज से ‌ राजधानी रायपुर के लिए नहीं चलेंगी बसें

0
187

रायपुर । कोरोना संक्रमण से एक बार फिर जिले में बस सेवा प्रभावित होती नजर आ रही है। राजधानी रायपुर में लाकडाउन ऐलान के बाद से शुक्रवार शाम से रायपुर रुट में बस सेवा बंद करने का निर्णय संचालकों ने लिया है। हालांकि महासमुंद जिले में लाकडाउन नहीं होने से राजिम, बागबाहरा, सरायपाली, सिरपुर सहित अन्य मार्गों पर बसें पूर्व की तरह ही चलेंगी।

बता दें कि गत वर्ष हुए लाकडाउन के बाद से चार माह तक प्रभावित रही। बस सेवा छह माह बाद पटरी पर लौट आई, लेकिन मार्च में कोरोना की दूसरी लहर से एक बार फिर कमोबेश गत वर्ष जैसी स्थिति नजर आ रही है। रायपुर में शुक्रवार से लाकडाउन हो जाएगा।

इसकी वजह से रायपुर रुट में बस सेवा बंद हो जाएगी

यहां जिले में प्रशासन ने लाकडाउन की जगह सुबह छह से शाम छह तक बाजार खुला रहेगा। यहां लाकडाउन नहीं है इसलिए मुख्यालय से राजिम, सरायपाली, बागबाहरा और अन्य रुटों पर बसें दौड़ेंगी । लेकिन इसमें संशय है, क्योंकि सवारियां होने पर ही बसें चलेंगी।

70 बसें हो जाएंगी खड़ी

रायपुर रुट में करीब 70 बसें चलती है जो शुक्रवार शाम से बंद हो जाएगी। बसें बंद होने का असर चालक-परिचालकों पर भी पड़ेगा। बसें बंद होने से उनका भी रोजगार समाप्त हो जाएगा। बता दें कि सर्वाधिक बसें रायपुर रुट पर ही चलती है। संचालक संघ अध्यक्ष राकेश चंद्राकर ने बताया कि बस कारोबार अभी पटरी पर लौटा था। फिर से लाकडाउन की वजह से आर्थिक नुकसान होगा।

राजिम, बागबाहरा रुट में सवारी घटी

राकेश चंद्राकर ने बताया कि रायपुर रुट की अपेक्षा राजिम, बागबाहरा, सरायपाली और अन्य मार्गो पर सवारियां पिछले पखवाड़ेभर के भीतर घट गए हैं। स्थिति यह है कि डीजल और चालक-परिचालकों का खर्च मुश्किल से निकल पा रहा है। यही स्थिति रही तो शुक्रवार से उक्त मार्गों में भी बसों का परिचालन व्यवस्था सुधरते बंद हो जाएगी। उन्होंने बताया कि मुख्यालय से रायपुर सहित अन्य मार्गों को मिलाकर दो सौ बसें चलती है। जिनका परमिट खर्च भी निकालना मुश्किल हो जाएगा।

वैवाहिक कार्यक्रमों की बुकिंग रद

संक्रमण बढ़ने के कारण प्रशासन ने वैवाहिक कार्यक्रमों सहित अन्य कार्यक्रमों के लिए पूर्व की तरह ही नियम लागू कर दिया है। इसके तहत वैवाहिक कार्यकमों में 10 से ज्यादा लोग शामिल नहीं हो पाएंगे। सभी कार्यक्रमों के लिए लोगों को एसडीएम से अनुमति लेनी होगी।

इसके बाद इस माह वैवाहिक कार्यक्रमों के लिए बसों की बुकिंग कर चुके लोग बुकिंग रद करा रहे हैं। चंद्राकर ने बताया कि करीब दर्जनभर बुकिंग रद्द हो चुकी है।