राम मंदिर चंदा वसूली पर बड़ा विवाद, भाजपाइयों ने थाने का किया घेराव

0
178

रायपुर। रायपुर से लगे मंदिर हसौद के मुंगेशर गांव में चंदा वसूली का मामला गरमाता जा रहा है। पुलिस ने भाजपा मंडल अध्यक्ष कृष्णा वर्मा और संतोष वर्मा के खिलाफ मंदिर हसौद थाना में एफआईआर दर्ज किया। इससे एक बार विवाद बढ़ गया।

मामले को लेकर भाजपा के कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को पुलिस थाने का घेराव कर थाना परिसर में ही धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया है। इसके बाद दर्ज किए गए केस की पुलिस जांच में आरोप झूठा साबित होने पर एफआईआर खारिज कर दिया गया।

जानकारी के मुताबिक राम मंदिर निर्माण में चंदा वसूली में गड़बड़ी की शिकायत की गई थी। यह आरोप भाजपा मंडल अध्यक्ष पर लगाया गया था। इनके खिलाफ मंदिर हसौद के मुंगेशर गांव की मोंगरा चौहान से मारपीट, गाली-गलौज करने के आरोप में धारा 294, 506 और 34 के तहत एफआईआर दर्ज किया गया था।

मामले की जानकारी मिलते ही भाजपा के वरिष्ठ नेता और कार्यकर्ता मंदिर हसौद पुलिस थाना पहुंचकर केस को वापस लेने की मांग पर अड़ गए और थाना परिसर में धरने पर बैठ गए। काफी देर तक हंगामा होता रहा। इस दौरान भाजपा नेताओं का जमावड़ा लगा रहा।

बता दें कि मंदिर हसौद इलाके की महिलाओं ने थाने में शिकायत कर आरोप लगाया था कि 10 रुपए वाले कूपन पर 50 और 100 रुपए की वसूली की गई है। महिलाओं ने मंदिर हसौद भाजपा मंडल के अध्यक्ष कृष्ण वर्मा के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी, जिस पर विवाद बढ़ गया।

मंदिर हसौद थाना पुलिस ने बताया था कि राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण में 10 रुपय की रसीद पर लोगों से 50 और 100 रुपए चंदा लिया गया, जिसके विरोध में मुंगेशर गांव से महिलाएं और पुरुष शिकायत कराने पहुंची थी।