पीएससी प्रामम्भिक परीक्षा में मॉडल उत्तरों की गड़बड़ी को लेकर अभाविप ने राज्यपाल को सौंपा ज्ञापन

0
138

रायपुर । अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् ने छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित राज्य सेवा प्रारम्भिक परीक्षा के मॉडल उत्तरों में गड़बडिय़ों को लेकर राज्यपाल को ज्ञापन सौंपते हुए यह मांग की है कि इन उत्तरों की गलतियों को सुधारकर परिणाम पुन: जारी किये जावें।

अभाविप के प्रदेश मन्त्री शुभम जायसवाल ने कहा कि छत्तीसगढ़़ पीएससी ने इस वर्ष फरवरी में राज्य सेवा परीक्षा (प्रारम्भिक) 2021 आयोजित की थी। दावापत्ति के बाद जो इसके संशोधित मॉडल उत्तर जारी किये हैं उनमें भी कई त्रुटियाँ सामने आयी हैं। उदाहरण के लिए छत्तीसगढ़ में वर्षा दक्षिण-पश्चिम मानसून से ही होती है और इसे आम लोग भी जानते हैं लेकिन आयोग द्वारा जारी मॉडल उत्तर में इसे गलत बताया गया है। ऐसे कुछ अन्य प्रश्नों के उत्तर भी इसमें गलत बताए गए हैं। इससे परीक्षार्थियों के मन में आयोग की कार्यशैली को लेकर सन्देह पैदा हो रहा है।

परिषद् ने राज्यपाल से यह मांग की है कि परीक्षार्थियों में फैले संदेह को दूर करने के लिए आयोग को इन उत्तरों की सन्दर्भ सूची जल्द-से-जल्द सार्वजनिक करने व मॉडल उत्तरों में त्रुटियों को सुधारने के निर्देश दिये जाएँ। इसके साथ-साथ मामले की जाँच और पुन: परिणाम घोषित करते हुए इन त्रुटियों के लिए जिम्मेदार अधिकारियों एवं विषय विशेषज्ञों पर कड़ी कार्रवाई की जाए।
इस मौके पर मुख्य रूप से प्रदेश संगठन मंत्री प्रदीप मेहता, अमन यादव, अमन ठाकुर उपस्थित थे।